October 10, 2020

Raag Yaman Based Bollywood Song Marathi Song Raag Yaman Information raag yaman aaroh avroh yaman raag notes

Raag Yaman

नमस्ते दोस्तों यहां पर हम देखने जा रहे हैं कि राग यमन के ऊपर कौन-कौन से हिंदी गाने हैं कौन-कौन से बॉलीवुड के गाने हैं.

 

राग यमन जो है बहुत ही बड़ा राख है और प्रारंभिक लेवल में हर एक गुरु अपने शिष्य को पहला  ज्यादा करके यमन  राग सिखाया जाता है तो यमन एक बहुत ही वर्सेटाइल  राग है.

आपको यमन में कई तरह के बॉलीवुड गाने हिंदी गाने मराठी गाने या कहीं तरह सेमीक्लासिकल और  क्लासिकल  सब तरह के  ट्यून आपको यमन में देखने मिलेंगे .

तो चलो आइए हम देखते हैं कौन-कौन से ऐसे गाने हैं मराठी और हिंदी जो राग यमन पर आधारित है तो आप इन सब गानों का अपने इंस्ट्रूमेंट के साथ बांसुरी के  साथ इसको बजाके आनंद ले सकते हो.

===============================================================================

1   जरा सी आहट होती है तो दिल सोचता है कहीं  यह वह तो नहीं

2   जब दीप जले आना जब शाम ढले आना

3   चंदन सा बदन चंचल चितवन धीरे से तेरा

4   नाम गुम जाएगा चेहरा यह बदल जाएगा मेरी आवाज ही पहचान है गर याद रहे

5   निगाहें मिलाने को जी चाहता है

6   एहसान तेरा होगा मुझ पर

7   रंजिश ही सही

8   आज जाने की जिद ना करो

9   शुक्र तारा मंद वारा ( मराठी  गीत )

10  प्रथम तुला वंदितो ( मराठी  गीत )

11  तू चंद्रमा नभात ( मराठी  गीत )

12  भय इथले संपत नाही ( मराठी  गीत )

13  पिकल्या पानाचा   डेट की हो हिरवा  ( मराठी  गीत )

14  घर से निकलते ही कुछ दूर चलते ही

15   आए हो मेरी जिंदगी में तुम बहार बनके

16  पान खाए सैंया हमारो

17  थोड़े नादान हो तुम थोड़े बदमाश हो तुम    न्यू सॉन्ग

 

अब आपके मन मे सवाल रहेगा कि मैंने तय कर लिया कि यह सब गाने राग पर आधारित है किसी भी पहचान उसके साथ नहीं होती इसमें पर्टिकुलर है राग यमन पर आधारित है ऐसा नहीं होता.

राग को  स्वरों की समूह से पहचाना जाता है जिसे हम चलन या पकड़ भी  कहते हैं तो ऊपर जो भी हमने गाने देखे हैं वह गाने का धुन वह गाने का ट्यून वह गाने की खुशबू ऐसी थी तो उन्हीं गानों को उन्हीं ट्यून को  संगीत को हम कहेंगे कि यह गाना  राग यमन पर आधारित है.   राग यमन के ऐसे कौन से स्वर है पकड़ है और चलन है जिसको सुनकर हम यह बता सकते हैं कि यह राग यमन है उसमें से हम कुछ उदाहरण के तौर पर कुछ स्वर नीचे देखते हैं

 

1 NI RE GA 

2  PA RE 

3 NI RE GA RE NI RE SA 

 

राग यमन में तीव्र लगता है बहुत बार गया होता है कि राग यमन में अगर हम शुद्ध  MA  का प्रयोग करें तो बहुत लोग यह भी कहते हैं कि अगर आप यमन में तीव्र म के बदले    शुद्ध  म का प्रयोग करें तो उसे यमन कल्याण भी कहा जाता है.

अगर आप ठीक से देखें तो बॉलीवुड सॉन्ग में बहुत जगह पर तीव्र मां के बदले में  शुद्ध   एवं  तीव्र मां का प्रयोग होता  तो वह गाने जो होते हैं वह राग यमन पर नहीं राग यमन कल्याण पर आधारित होते हैं.

और उसका सबसे अच्छा उदाहरण यह है  अभी ना जाओ छोड़ कर के दिल अभी भरा नही यह गाने में तीव्र म  के बदले में शुद्ध  म  लगाया गया है अगर हम उसे  तीव्र म  का प्रयोग करें तो गाने का पूरा मूड बदल जाता है.

 

 

राग का परिचय

  • इस राग को राग कल्याण के नाम से भी जाना जाता है। इस राग की उत्पत्ति कल्याण थाट से होती है अत: इसे आश्रय राग भी कहा जाता है
  • इस राग में वादी स्वर  ग और संवादी स्वर   नी है  इसमें  मा  हमेशा तीव्र ही लगता है
  • इस राग में आरोह में सा और प् किया जाता है
  • इस राग को रात्रि के प्रथम प्रहर या संध्या समय गाया-बजाया जाता है।
  • आरोह- ऩि रे ग, म॑ प, ध नि सां।
  • अवरोह- सां नि ध प, म॑ ग रे सा।
  • पकड़- ऩि रे ग रे, प रे, ऩि रे सा।
  • इस राग में ऩि रे और प रे का प्रयोग बार बार किया जाता है।

======================================================================================

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

4 × 4 =

error: Content is protected !!